बुद्धिमान लोग अक्सर समाज से कटे हुए क्यों होते हैं?

Last Updated on 2 months by Editorial Staff

बुद्धिमान लोग अक्सर समाज से कटे हुए क्यों होते हैं? Why are intelligent people often cut off from society?

निसंदेह काफी सटीक प्रश्न है हमारी समझ में इसके दो कारण होते हैं

पहला कारण

असल में इंसान सामाजिक प्राणी है और हर समाज का अपना एक बुद्धि स्तर होता है. अगर कोई व्यक्ति उस बुद्धि स्तर से कम बुद्धि स्तर का होता है तो उसे बेवकूफ या पागल समझा जाता है

बुद्धिमान लोग अक्सर समाज से कटे हुए क्यों होते हैं? Why are intelligent people often cut off from society?
बुद्धिमान लोग अक्सर समाज से कटे हुए क्यों होते हैं? Why are intelligent people often cut off from society?

वही यह बात उन व्यक्तियों पर भी लागू होती है जिनका बुद्धि स्तर उनके समाज के व्यक्तियों से काफी अधिक होता है वह व्यक्ति भी पागल या मूर्ख समझा जाता है.

अब ऐसा होता क्यों है

क्योंकि इंसान हमेशा ऐसे व्यक्तियों के साथ संबंध या बात करना पसंद रखता है करता है जिसकी बात वह समझ सके और जिसे अपनी बात समझा सके. यहां बात क्या है इस से कोई मतलब नहीं है बात सही भी हो सकती है बात गलत भी हो सकती है. बात का स्तर कैसा भी हो सकता है लेकिन वह दूसरे को समझा सके और उसकी समझ सके.

अगर समाज को किसी व्यक्ति की बात समझ नहीं आती है चाहे वह कम बुद्धि वाला हो चाहे वह अधिक बुद्धि वाला हो दोनों ही उसके लिए मूर्ख होते हैं

बुद्धिमान लोग अपने खाली वक़्त में क्या करते हैं?

यहां पर मूर्खता की परिभाषा एक और है जिसे ज्ञान नहीं वह व्यक्ति मूर्ख कहलाता है लेकिन समाज में यह परिभाषा नहीं चलती.

समाज में होता क्या है समाज जिसे मूर्ख समझता है वह व्यक्ति मूर्ख होता है समाज जिसे अकल मंद समझता है वह व्यक्ति अकल मंद होता है. भले ही उस व्यक्ति में वह गुण है या नहीं है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता.

इसलिए समझदार व्यक्ति समाज से कटा हुआ रह सकता है क्योंकि समाज उससे कनेक्ट ही नहीं होना चाहता या उसका स्तर ही नहीं है वह कनेक्ट हो सके

दूसरा कारण

दूसरा कारण समाज नहीं स्वयं वह अकल मंद व्यक्ति होता है वह अपने से कम बुद्धि स्तर वाले लोगों से जल्दी से संबंध रखना पसंद नहीं करता, इसलिए वह समाज से कटा हुआ रह सकता है क्योंकि वह समाज से अपने आप को कनेक्ट नहीं कर पाता

बुद्धिमान लोग अक्सर समाज से कटे हुए क्यों होते हैं?