Library Bilaspur : सूचना विज्ञान में है, कैरियर की संभावनाएँ

Last Updated on 4 days by Editorial Staff

Library Bilaspur : पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान में है, कैरियर बनाने की अपार संभावनाएँ

धनकुमार महिलांग – लाइब्रेरियन

सेन्ट्रल (डिजिटल) लाइब्रेरी
नूतन चौक न्यू सरकण्डा
बिलासपुर (छ.ग.) मो.नं. 835899433

Library Bilaspur : सूचना विज्ञान में है, कैरियर की संभावनाएँ

विश्व में पुस्तकालय के विभिन्‍न प्रकारों एवं क्षेत्रों में जैसे

1) शैक्षणिक पुस्तकालय के अंतर्गत स्कूल कॉलेज यूनिवर्सिटी,

2) सार्वजनिक पुस्तकालय के अंतर्गत- ग्रामीणपुस्तकालय, राज्य पुस्तकालय, जिला पुस्तकालय सेन्‍्द्रल पुस्तकालय आदि।

3) विशिष्ट पुस्तकालय के अंतर्गत- हॉस्पिटल, रेलवे, कानून, आदि आते हैं। ये सभी
प्रकारों एवं क्षेत्रों में पुस्तकालय में रोजगार पाने के अपार संभावनाएँ बढ़ते जा रहा
है।

पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान में कैरियर बनाने के लिए युवाओं को कोई भी एक कोर्स का चयन करना होगा। आज के इस डिजिटल युग में नेटवर्कों, सॉफ्टवेयर, तकनीकियों, कम्प्यूटों के उपयोग अधिक होने के साथ ही पुस्तकालय भी डिजिटल स्वरूपों में अपने संग्रह को रख रहे हैं।

Central Library Chhattisgarh’s 1st Digital Library

कम्प्यूटरों एवं सॉफ्टवेयरों का पुस्तकालय में उपयोग करके पुस्तकालय के सभी कार्यो एवं सेवाओं को तीव्र गति से अर्थात अल्प समयावधि में ही संपन्‍न करके पाठकों की समय का बचत कर रहे हैं। इसी के साथ ही पुस्तकालय नेटवर्कों के माध्यम से संसाधन सहभागिता को बढ़ावा दे रहे हैं।

आधुनिक युग में पुस्तकालय का नाम परिवर्तित होकर डिजिटल पुस्तकालय, ई-पुस्तकालय, ऑटोमेटेड पुस्तकालय, कागज विहीन पुस्तकालय, आभासिक पुस्तकालय आदि नामों से जाने जा रहे हैं।

Library Bilaspur : सूचना विज्ञान में है, कैरियर की संभावनाएँ
Library Bilaspur : सूचना विज्ञान में है, कैरियर की संभावनाएँ

पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान विषय के लिए आवश्यक योग्यताएँ :-

युवाओं को पुस्तकालय विज्ञान विषय के लिए न्यूनतम्‌ योग्यताएँ 42वीं पास एवं स्नातक पास होना अनिवार्य है। इसके बाद वह 42वीं पास के आधार पर छः माह का कोई पुस्तकालय विज्ञान में कर सकते हैं और स्नातक के आधार पर वह प्री

लिम्ब, एम लिम्ब, एम.फिल, पी.एच.डी., डी.लिट तक की पढ़ाई पूरा कर सकते हैं
और अपने कैरियर बनाने में सफल हो सकते हैं ।


पुस्तकालय आटोमेशन :-
आज के मौजूद समय में सूचना, संचार और प्रौद्योगिकी के कारण वर्तमान में व पूरे
विश्व में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और पुस्तकालय एवं ई-पुस्तकालय के अन्तर्गत
ई-पुस्तकें, ई-पाठय-सामाग्री, ई-पत्रिका, ई-मैग्जीन, ई-अखबार, ई-थिसिस,
आडियो-विडियो, सी.डी., नेटवर्कों, कम्प्यूटरों, सॉफ्टवेयरों का पुस्तकालय में उपयोग
तीव्र गति से बढ़ रहा है, जो पुस्तकालय की अवधारणा को बदलकर रख दिया है।
आज सभी पुस्तकालय, पुस्तकालय आटोमेशन को बढ़ावा दे रहे हैं ।

Library Bilaspur :


पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान में प्रमुख कोर्सेस :–

पुस्तकालय विज्ञान में छः माह से कोई का शुरूआत होते हैं जो एक वर्ष, तीन वर्ष,
पाँच वर्ष का कोर्स होता है। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से जुड़े विभिन्‍न कोर्सेस की
जानकारी होने से पुस्तकालय विज्ञान विषय में कैरियर बनाने में बहुत ही आसानी
होती है। पुस्तकालय आटामेशन का प्रभाव युवाओं पर पड़ेगा।

लेकिन एक तरफ से देखा जाए तो इससे नये रोजगार के अपार संभावनाएँ भी उत्पन्न होंगे ।

छत्तीसगढ़ राज्य में पुस्तकालय विज्ञान में यहाँ से करें कोर्सेस :-

  1. गुरू घासीदास केन्द्रीय विश्वविद्यालय कोनी, बिलासपुर (छ.ग.)पं. रविशंकर शुक्ल विश्व विद्यालय रायपुर (छ.ग.)
  2. बिलासपुर विश्वविद्यालय बिलासपुर (छ.ग.)
  3. पं. सुन्दर लाल शर्मा मुक्त विश्व विद्यालय बिरकोना बिलासपुर (छ.ग.)
  4. डॉ. सीवी. रमन विश्वविद्यालय करगी रोड कोटा, बिलासपुर (छ.ग.)
  5. कामघेनु विश्वविद्यालय दुर्ग (छ.ग.)
  6. कलिंगा विश्वविद्यालय कोटनी, रायपुर (छ.ग.)
  7. मैट्स विश्वविद्यालय आरंग, रायपुर (छ.ग.)
  8. आई.एस.बी.एम. विश्वविद्यालय, छूरी गरियाबंद (छ.ग.)
  9. शासकीय बिलासा कन्या महाविद्यालय बिलासपुर (छ.ग.)
  10. कमला नेहरू कॉलेज, रानी रोड, कोरबा (छ.ग.)
  11. विज्ञान महाविद्यालय, दुर्ग, भिलाई (छ.ग.) आदि।

पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान में रोजगार की संभावनाएँ :-

पुस्तकालय विज्ञान विषय में दिन-प्रतिदिन रोजगार की अपार संभावनाएँ बढ़ती ही
जा रही है। पुस्तकालय एवं सूचना विज्ञान में आज कैरियर की अपार संभावनाएँ हैं।
अ्हताप्राप्त लोगों को विभिन्‍न पुस्तकालयों तथा सूचना केन्द्रों में रोजगार दिया जा
रहा है। प्रशिक्षित पुस्तकालय व्यक्ति अध्यापक तथा ग्रंथपाल दोनों रूपों में रोजगार
अवसर तालश कर सकते हैं। वास्तव में अपनी रूचि तथा पृष्ठभूमि के अनुरूप
पुस्तकालय की प्रकृति का चयन करना संभव है।

लाइब्रेरियनशिप में पदनाम :-

ग्रंथयाल, उपग्रंथयाल, सहायक ग्रंथपाल, पुस्तकालय सहायक, प्रलेखनाधिकारी,
सूचनाधिकारी, वैज्ञानिक प्राध्यापक, सह प्राध्यापक, सहायक प्राध्यापक, वर्गाकार,
सूचीकार, निर्देशक, ज्ञान प्रबंधक एवं सूचना विश्लेषक हो सकते हैं।

इन क्षेत्रों में रोजगार की अपार संभावनाएँ :-

स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय में। केन्द्रीय सरकारी पुस्तकालयों में। बैंक, रेलवे, हॉस्पिटल में। आई.सी.ए.आर., डी.आर.डी.ओ.आई.सी.एम.आर. में। न्यूज चैनल्स, रेडियो स्टेशन, कारखाना के पुस्तकालयों में।
राष्ट्रीय संग्रहालय, अभिलेखागारों उच्चायोगों में। मंत्रालयों, कलेक्ट्रेट आफिस समाचार पत्रों के पुस्तकालयों में।
पुस्तकालय नेटवर्कों, प्रलेखन केन्द्रों, सूचना केन्द्रों में। यूनेस्को, डेसीडॉक, इन्सडॉक, नेस्डडॉक में। प्रशिक्षण अकादमियों में। डिजिटल लाइब्रेरी, ई-पुस्तकालय, ग्रामीण पुस्तकालयों में आदि।

पुस्तकालय एवं सूचना व्यवसाय में वेतनमान :-

वेतन संगठनों, संस्थाओं, की प्रकृति के आधार पर अलग-अलग होते हैं। लेकिन
फिर भी पद एवं योग्यताएँ के आधार पर प्रारंभिक स्तर पर 45-25 हजार रूपये
प्रति महीने प्राप्त कर सकते हैं। सरकारी, अर्धशासकीय, ग्रान्ट, प्राइवेट ये सभी स्तरों
पर वेतनमान भिन्न-भिन्न होते हैं लेकिन अधिकतम वेतन 50 हजार से लेकर ॥
लाख रूपये तक सैलरी पा सकते हैं।

सरकारी संस्थाओं में सीनियारिटी के आधार पर इससे अधिक भी कमा सकते हैं। अच्छा शैक्षणिक रिकार्ड तथा कम्प्यूटर एवं
सॉफ्टवेयरों में पर्याप्त ज्ञान रखने वाले व्यक्ति इस प्रोफकेशनल में आकर्षक वेतन व कैरियर बना सकते हैं।

Library Bilaspur : सूचना विज्ञान में है, कैरियर की संभावनाएँ